हर मुलाकात पर वक्त का तकाज़ा हुआ..
हर याद पे दिल का दर्द ताजा हुआ..
सुनी थी सिर्फ हमने गज़लों मे जुदाई की बातें..
अब खुद पे बीती तो हकीकत का अंदाजा हुआ..!!

Har mulakat par waqt ka takaza hua,
Jab jab use dekha dil ka dard taza hua,
Suni thi sirf gazal mein judai ki bate,
Ab khud par biti to haqiqat ka andza hua.

 

तेरी धड़कन ही ज़िंदगी का किस्सा है मेरा,
तू ज़िंदगी का एक अहम् हिस्सा है मेरा..
मेरी मोहब्बत तुझसे, सिर्फ़ लफ्जों की नहीं है,
तेरी रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा..!!

Teri dhadkan hi zindagi ka kissa hai mera,
tu zindagi ka ek ahem hissa hai mera,
ye mohabbat tujhse sirf lafzo ki nahin hai,
teri rooh se rooh tak ka rishta hai mera..!

तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे,
खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे,
अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो,
तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे।

Tere pyaar ka sila har haalmein denge,
Khuda bhi maange ye dil toh nikaal denge,
Agar dil ne kaha tum bewafa ho,
Toh is dil ko bhi seene se nikaal denge!!

खता हो गयी तो सजा बता दो,
दिल में इतना दर्द क्यों है वजह बता दो,
देर हो गयी है याद करने में ज़रूर,
लेकिन तुमको भुला देंगे ये ख्याल दिल से मिटा दो।

Khata Ho Gayi To Saja Bata Do,
Dil Me Itna Dard Kyu Hai Wajah Bata Do,
Der Ho Gayi Hai Yaad Karne Me Jarur,
Lekin Tumko Bhula Denge Ye Khayal Dil Se Mita Do!

तुम्हारे नाम को होंठों पर सजाया है मैंने,
तुम्हारी रूह को अपने दिल में बसाया है मैंने,
दुनिया आपको ढूंढते ढूंढते हो जायेगी पागल,
दिल के ऐसे कोने में छुपाया है मैंने!

Tumhare naam ko hothon par sajaya hai maine,
Tumhari ruh ko apne dil main basaya hai maine,
Duniya aapko dhundhte dhundhte ho jayegi paagal,
Dil ke aise kone main chupaya hai maine.

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है!
दिल न चाह कर भी, खामोश रह जाता है!
कोई सब कुछ कहकर, प्यार जताता है!
कोई कुछ न कहकर भी, सब बोल जाता है!

Jab koi khayal dil se takrata hai,
dil naa chaha ker bhi, khamosh rah jata hai,
koi sab kuch keh ker pyar jatata hai,
koi kuch na kehker bhi, sab bol jata hai!