सुहागरात के समय दूल्हे ने अपनी पत्नी को बाँहों में लेते हुए कहा, ”आज से तुम मेरी प्रेरणा, मेरी साधना और मेरी आशा हो।”
यह सुनकर दुल्हन पल-भर चौंकी और फिर बोली, ”आज से तुम मेरे राहुल, राकेश और अमन हो।”

रमन- यदि आपकी प्रेमिका खूबसूरत, समझदार, ध्यान रखने वाली, कभी न जलने
वाली और अच्छे व्यंजन बनाने वाली हो तो उसे आप क्या नाम देंगे?
राजू- अफवाह!

टैक्सी में प्रेमी-प्रेमिका जा रहे थे।
प्रेमिका- रुको, नहीं तो मारूँगी! ड्रायवर ने टैक्सी रोक दी।
प्रेमी- तुम तो चलते रहो भाई। इन्होंने ये मुझसे कहा है!