हमारा वजूद नही

हमारा वजूद नहीं किसी तलवार और तख़्त-ओ-ताज का मोहताज हम अपने हुनर और होंठो की हंसी से लोगो के दिल पे राज करते हैं..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *