शरारत लेके आँख

शरारत लेके आँखों में वो तेरा देखना तौबा मैं नज़रों पर जमी नज़रें झुकाना भूल जाता हूँ…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *