ये दिल न जाने क्या कर बैठा

ये दिल न जाने क्या कर बैठा,
मुझसे बिना पूछे ही फैसला कर बैठा,
इस ज़मीन पर टूटा सितारा भी नहीं गिरता,
और ये पागल चाँद से मोहब्बत कर बैठा!

Yeh dil na jane kiya kar betha,
Mujhse bina puche hi faisla kar betha,
Is zameen per toota sitara bi nahi girta,
Aur ye pagal chand se mohabbat kar betha..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *