न दिल में बसाकर भुलाया करते हैं

न दिल में बसाकर भुलाया करते हैं,
ना हँसकर रुलाया करते हैं,
कभी महसूस कर के देख लेना,
हम जैसे तोह दिल से रिश्ते निभाया करते है.

Na dil mein basakar bhulaya karte hain,
Na hasakar rulaya karte hain,
Kabhi mehsoos kar ke dekh lena,
Hum jaise toh dil se rishte nibhaya karte hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *