“देखो” तो ख्वाब ��

“देखो” तो ख्वाब है ज़िन्दगी “पढो” तो किताब है ज़िन्दगी पर हमें लगता है “हंसते” रहो ” तो आसान है जिन्दगी “..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *