जब कोई ख्याल दिल से टकराता है!

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है!
दिल न चाह कर भी, खामोश रह जाता है!
कोई सब कुछ कहकर, प्यार जताता है!
कोई कुछ न कहकर भी, सब बोल जाता है!

Jab koi khayal dil se takrata hai,
dil naa chaha ker bhi, khamosh rah jata hai,
koi sab kuch keh ker pyar jatata hai,
koi kuch na kehker bhi, sab bol jata hai!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *