कैसे साँस चलेग

कैसे साँस चलेगी कैसे रात कटेगी कैसे जी मै सकूंगी तेरे बिन सजना तेरी जुदाई मुझे रास ना आई लगती दुनिया पराई तेरे बिन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *