किसी रोज़ शाम क

किसी रोज़ शाम के वक़्त… सूरज के आराम के वक़्त… मिल जाये साथ तेरा… हाथ में लेके हाथ तेरा…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *