एक लहर तेरे ख़्

एक लहर तेरे ख़्यालों की… मेरे वजूद को भिगो जाती हैं एक बूंद तेरी याद की मुझे इश़्क के दरिया में डुबो जाती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *